भीम आर्मी समर्पित आजाद समाज पार्टी ने महामहिम राष्ट्रपति के नाम

 बस्ती । जिले में आज भीम आर्मी समर्पित आजाद समाज पार्टी ने महामहिम राष्ट्रपति के नाम


बस्ती जिला अधिकारी कार्यालय पहुंचकर ओबीसी के जातीय जनगणना कराने के संबंध में सौंपा ज्ञापन, उन्होंने कहा कि महोदय यह बिल्कुल झूठ है कि पिछड़ों की जातिगत जनगणना कराए जाने से समाज अगड़ा पिछड़ा में बट जाएगा बल्किं यह राष्ट्र निर्माण के दिशा में क्रांतिकारी कदम साबित होगा,।

देश में सभी जातियों की जनगणना होनी चाहिए ताकि यह पता चल सके कि समाज में साधन संसाधन धन धरती और भागीदारी का बंटवारा कैसा है ।सही जनगणना होने से सरकार को पिछड़े वर्ग के, जिसकी जितनी संख्या भारी उसकी उतनी हिस्सेदारी, के फार्मूले पर विकास के लिए योजनाएं बनाने में आसानी होगी भारत के प्रधानमंत्री माननीय नरेंद्र मोदी जी स्वयं अपने आप को ओबीसी कहते हैं और ओबीसी के कल्याण का वादा करके ही वह सत्ता में आए हैं अब सरकार का अपने वादे से फलट जाना अति दुखद है।

आजाद समाज पार्टी के जिला अध्यक्ष आकाश आर्य ने कहा पिछले महीने लोकसभा में दिए जवाब में केंद्र सरकार ने कहा था कि फिलहाल आदमी 2021 की जनगणना जाति आधारित नहीं होगी सरकार का यह फरमान पिछड़ों एवं वंचितों का कल्याण विरोधी है किसी भी राष्ट्र का समेकित विकास तब तक संभव नहीं है जब तक की हंशिये के समाज को विकास की मुख्यधारा से ना जोड़ा जाए ताज्जुब की बात है, कि 1931 में हुई जाति आधारित जनगणना के बाद से लेकर आ अभी तक जातीय जनगणना नहीं हुई है जातीय जनगणना जातिगत एकत्र किए गए लेकिन उसे जारी नहीं किया गया सरकार ने लोगों के टैक्स के करोड़ों रुपए बर्बाद कर दिया।

आजाद समाज पार्टी ने कहा अपनी ईसी मांग को लेकर आज पूरे उत्तर प्रदेश के सभी जिले मुख्यालय पर विरोध प्रदर्शन कर जिला अधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को पत्र लिखकर अवगत कराया जा रहा है कि जातिगत जनगणना तत्काल से लागू हो अन्यथा आजाद समाज पार्टी राष्ट्रव्यापी आंदोलन करने को बाध्य होगी

Popular posts
दारुल उलूम इस्लामियां फैजाने आलम परसा दमया मे हुआ झंडारोहण हुआ
Image
धड़ल्ले से चल रहा पुलिस के नाक के नीचे गांजा का कारोबार
Image
मासिक पत्रिका शब्द सुमन का 6 वा स्थापना दिवस मनाया,सम्मानित हुए समाजसेवी और साहित्यकार
Image
मनरेगा के आवेदन से पहले बन्द हुआ सेवा योजना की साईट,आवेदन के नाम पर विभाग के कृपा पात्र सेंटर पर लाखो रुपए वसूलने का आरोप
Image